स्वस्थ शरीर के निर्माण में पानी की भूमिका

विशेषज्ञों के अनुसार, एक व्यक्ति 1 सप्ताह तक भोजन के बिना रह सकता है, लेकिन पानी की एक बूंद के बिना 5 दिनों से अधिक नहीं रह सकता है। जैसे ही मानव शरीर में 1% पानी की कमी होती है, उसे प्यास लगने लगती है। 5 प्रतिशत तक की कमी होने पर शरीर की नसें और इसकी सहनशक्ति कम होने लगती है। जब ऐसा होता है, तो शरीर थकावट महसूस करता है। अगर शरीर में पानी का स्तर 10 प्रतिशत तक गिर जाता है, तो व्यक्ति को धुंधला दिखाई देने लगता है। अगर शरीर में पानी की कमी 20 प्रतिशत तक हो जाती है, तो यह इंसान की मौत का कारण भी बन सकता है। यही कारण है कि मनुष्य को हमेशा अपने शरीर को पानी की आपूर्ति करनी चाहिए।


मुख्या बिंदु:

  • पानी पीने के क्या फायदे है
  • शरीर में पानी के कमी के क्या लक्षण हो सकते है
  • पानी पीने का सबसे अच्छा समय क्या है?
  • बहुत ज्यादा पानी पीने से क्या नुकसान है?
  • गर्म पानी पीने के फायदे
स्वस्थ शरीर के निर्माण में पानी की भूमिका

पानी पीने के क्या फायदे है


यह लार उत्पन्न करने में मदद करता है

पानी लार का प्रमुख हिस्सा है। लार में इलेक्ट्रोलाइट्स, बलगम और एंजाइम की थोड़ी मात्रा भी होती है। आपका शरीर सामान्य रूप से तरल पदार्थ के दैनिक सेवन के साथ पर्याप्त लार का उत्पादन करता है। आपकी लार का उत्पादन हालांकि उम्र या कुछ दवाओं या उपचारों के परिणामस्वरूप घट सकता है। यदि आपका मुंह सामान्य से अधिक सूखा है, और आपके पानी का सेवन भी इसमें मदद नहीं कर रहा है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

यह शरीर के तापमान को नियंत्रण में रखता है

हाइड्रेटेड रहना शरीर के तापमान को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है। शारीरिक गतिविधि के दौरान और गर्म वातावरण में पसीने के माध्यम से पानी शरीर से बहार निकलता है ।

आपका पसीना आपके शरीर को ठंडा रखता है, लेकिन अगर आप शरीर में पानी के मात्रा को संतुलित नही रखेंगे तो आपके शरीर का तापमान बढ़ जाएगा । इसका कारण यह है कि शरीर निर्जलित होने पर इलेक्ट्रोलाइट्स और प्लाज्मा खो देता है। अगर आपको सामान्य से ज्यादा पसीना आता है तो डिहाइड्रेशन से बचने के लिए खूब पानी पिए।

यह कब्ज को रोकने में मदद करता है।

फाइबर खाना कब्ज को रोकने का एकमात्र तरीका नहीं है। पानी का सेवन बनाए रखना भी महत्वपूर्ण है ताकि मल में पर्याप्त तरल पदार्थ हो। यदि आपके शरीर में पर्याप्त पानी, मैग्नीशियम और फाइबर नहीं है, तो आपको कब्ज होने की अधिक संभावना है। यदि आपको पहले से ही कब्ज हैं, तो कार्बोनेटेड पानी और नियमित पानी पीना आपके लक्षणों को दूर कर सकता है।

यह पोषक तत्वों को अलग करने में मदद करता है।

भोजन को तोड़ने में मदद करने के अलावा, पानी भोजन में विटामिन, खनिज, और अन्य पोषक तत्वों को अलग करने में भी मदद करता है। फिर, इन विटामिन घटकों को शरीर के बाकी हिस्सों के लिए वितरित और उपयोग किया जाता है।

यह वजन कम करने में मदद करता है

आहार लेते समय या व्यायाम करते समय अधिक पानी पीने से आपको अतिरिक्त वजन कम करने में मदद मिलेगी।

यह रक्त में ऑक्सीजन सर्कुलेशन में सुधार करता है।

पानी पूरे शरीर में उपयोगी पोषक तत्व और ऑक्सीजन पहुंचाता है। प्रतिदिन तरल पदार्थ के सेवन से परिसंचरण में सुधार होता है और समग्र स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

पानी पीने के क्या फायदे है

शरीर में पानी के कमी के क्या लक्षण हो सकते है

 

  • सर में दर्द होना 
  • डिहाइड्रेशन होने पर भ्रम होना 
  • डिहाइड्रेशन के कारण साँस की दुर्गन्ध होना 
  • कब्ज होना 
  • काम मूत्र आना 
  • जल्दी थक जाना
  • मांसपेशियों में दर्द होना
  • हृदय गति बढ़ जाना

 

पानी पीने का सबसे अच्छा समय क्या है?

सुबह उठने के बाद, 2 गिलास पानी पीना चाहिए। आयुर्वेद के अनुसार सुबह खाली पेट पानी पीना बहुत ही सेहतमंद है। ऐसा करने से शरीर से दूषित तत्व खत्म हो जाते हैं और शरीर अच्छी तरह से साफ हो जाता है। सुबह खाली पेट पानी पीने से कब्ज से भी राहत मिलती है।

बहुत ज्यादा पानी पीने से क्या नुकसान है?

ज्यादा पानी पीना खतरनाक हो सकता है। अतिरिक्त पानी को साफ करने की किडनी की क्षमता कम होने लगती है। इससे कोशिकाओं को सूजन हो सकती है, जो जानलेवा साबित हो सकती है।

गर्म पानी पीने के फायदे

गर्म पानी पीने के फायदे

  • जब आप गर्म पानी पीते हैं तो वजन कम होता है।
  • यदि आपके सीने में जकड़न है, तो गर्म पानी इस समस्या को ठीक कर देगा।
  • गर्म पानी में नींबू और शहद मिलाकर सेवन करने से फैट बर्न होता है।
  • रोजाना गर्म पानी के सेवन से चेहरे पर आसानी से झुर्रियां नहीं पड़ती हैं और यह त्वचा में निखार लाता है।
  • गर्म पानी से शरीर आसानी से डिटॉक्स हो जाता है, जिससे पाचन सही रहता है।
  • गर्म पानी बालों के लिए भी उपयोगी है। यह बालों के विकास के लिए अच्छा है और इससे बाल चमकदार भी होते हैं।
  • गर्म पानी पीने से शरीर में रक्त की आपूर्ति बनी रहती है।
  • शीतल पेय के बजाय गुनगुना पानी पीने से शरीर को आसानी से ऊर्जा मिलती है।


पानी आपके शरीर के लगभग हर हिस्से के लिए आवश्यक है। यह न केवल आपके रोज़मर्राह के कामो को पूरा करने में मदत करता है, बल्कि यह आपके संपूर्ण स्वास्थ्य में भी सुधार कर सकता है। आप जहां भी जाएं पानी की बोतल ले आएं। जब भी आपको जरूरत हो आप इसे पी सकते हैं।

%d bloggers like this: